जन्माष्टमी में घर पर बनाएं नारियल पाग (Nariyal Pag) रेसिपी

Nariyal Pag :  नारियल पर ऐसी मिठाई है जिसको उत्तर भारत में जन्माष्टमी के दिए भगवान  के प्रसाद के लिए बनाया जाता है.  यह मिठाई खाने में बहुत अच्छा लगता है. इस मिठाई को बनाने में घी का इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं होता है. लेकिन चीनी का भरपूर मात्रा में इस्तेमाल किया जाता है. चीनी खाने में कोई दिक्कत ना हो तो आप इस नारियल पाग को जरूर बना कर खाएं.

nariyal pag


सामग्री --Ingredients for Nariyal Pag

सूखा नारियल- 150 ग्राम

चीनी- 250 ग्राम


नारियल पाग  बनाने की विधि -- How to make nariyal pag 

नारियल पर बनाने के लिए सबसे पहले चाशनी को तैयार कर लीजिए. चाशनी बनाने के लिए एक कढ़ाई में और उसमें चीनी और आधा कप पानी डालकर गर्म करें. चीनी के खुल जाने तक इसे गर्म करें. चाशनी को लगभग 3 से 4 मिनट तक पकने दीजिये. उसके बाद चाशनी को चेक कीजिए. चाशनी की एक बूंद  को प्लेट में लेकर अंगूठा और उंगली के बीच तीन तार  बनना चाहिए. और आपको यह भी महसूस हो जाएगा कि अब चाशनी जमने वाली है. तब गैस को बंद कर दें.

अब कद्दूकस नारियल को ले और उसको चाशनी  में डाल दें. अब इसको  चमचे से चलाकर मिला दें. इसको तब तक चलाते रहिए जब तक की चाशनी  का तापमान  ठंडा ना हो जाता हो.


अब एक थाली  लें और उसमें हल्का सा भी लगाकर उसको चिकना करते हैं.अब  नारियल  और चाशनी  के मिश्रण को लीजिए और इस थाली पर डाल दीजिए. अब इस मिश्रण को इस थाली में एक जैसा फैला दीजिए. अब इसको ठंडा करने के लिए रख दें. 30 मिनट के बाद या ठंडा हो जाएगा और पाग  जम जाएगा.



जब पाग  जम जाए तब थाली के नीचे से बिल्कुल धीमी आंच पर हल्का सा गर्म करें. और अब इसके ऊपर दूसरी  थाली रख कर इसको हल्के से थपथपाकर निकाल लें.

अब आप इसे किसी चाकू से मनचाहे टुकड़े काटकर  या बर्फी के आकार का टुकड़ा काट लें. अब आप इसे तुरंत भी खा सकते हैं. या तो आप इसे हेयर टाइट कंटेनर में भरकर 1 महीने तक के लिए  रख सकते हैं. और जब मन करे इसे निकाल कर खा सकते हैं.

अधिक से अधिक  शेयर करें

Reactions

Post a Comment

0 Comments