Weight Loss : जाने, क्या दूध पीने से वजन घटता है.दूध का सेवन कितने मात्रा में करना चाहिए

Weight Loss :  इस बात को जानकर आप लोगों को काफी हैरानी होने वाली है की दूध पीने से  फैट बढ़ता नहीं बल्कि घटता है. और दूध पीने से मसल्स  बन जाती है.


Milk for weitht loss


दूध को लेकर अलग-अलग  लोगों में अपनी अलग-अलग राय है. परंतु इस बात को कोई गलत नहीं कह सकता है कि दूर सेहत का खजाना होता है.  तभी तो आयुर्वेदिक में इसे संपूर्ण आहार (Complete Food)  माना जाता है. दूध हमारे पूरे शरीर को पोषण देने का कार्य करती है. तभी तो बच्चों को इसके सेवन से ओवरऑल हेल्थ का लाभ मिलता है.

फैट नहीं बढ़ता है 


पसीना बहाने वाले लोगों  के बारे में डॉक्टरों का कहना है कि जो युवा वेटलिफ्टिंग करने के बाद दूध का सेवन करते हैं वैसे युवाओं के शरीर में जमा फैट तेजी से घटता है. और उनके मसल्स तेजी से बनने शुरू हो जाते हैं. इसलिए जो युवा मसल्स पर कार्य कर रहे हैं वैसे युवाओं के लिए  एक्सरसाइज के बाद दूध का सेवन करना काफी फायदेमंद हो सकता है.

क्या दूध से बने हुए अन्य फ़ूड भी इतने ही  लाभदायक होते हैं.?

अगर आपको दूध पीना पसंद ना हो ऐसे में आपको एक विचार आएगा कि क्या दूध से बने अन्यपूर्ण भी दूध जितने ही लाभ पहुंचा सकते हैं. इस प्रश्न के जवाब में विशेषज्ञों की राय यह है कि एक्सरसाइज के बाद युवा अगर दूध की जगह अन्य दूध से बने फ़ूड  का इस्तेमाल करते हैं तो उनके  मसल्स  बनने की गति धीमी हो जाती है. यानी कि  आपकी मसल्स तो बनती है.परंतु उस रफ्तार से नहीं जिस रफ्तार से एक्सरसाइज के बाद दूध का सेवन करने से बनता है.


क्या अधिक मात्रा में दूध का सेवन कर सकते हैं?

दूध के बेनिफिट को जानने के बाद अगर आपका मन कर रहा है कि  तब तो दिन भर दूध ही पीना चाहिए. क्योंकि यह संपूर्ण हार की गिनती में भी आता है यह मसल्स भी बनाता है और इससे फैट भी घटता है. लेकिन यह गलत है. क्योंकि आती तो हर चीज की खराब होती है. सिर्फ दूध पीने से आपके हार्ट डिजीज का खतरा बढ़ सकता है. और आपको पाचन संबंधी रोग भी उत्पन्न हो सकते हैं. इसी 6 महीने की उम्र के बाद के बच्चे को भी कुछ ना कुछ ठोस आहार खाने को दिया  जाने लगता है. दूध से फैट  का एक ही तरीका है कि आप एक्सरसाइज जरुर करें. तभी पेट कम करने में दूध आपकी सहायता करें.


1 दिन में कितना दूध पीना चाहिए?

1 दिन में एक व्यक्ति को कितना दूध पीना चाहिए यह इस बात पर निर्भर करता है, कि व्यक्ति की जीवन शैली कैसी है.वह कार्य क्या करता है और वह 1 दिन में कितनी कैलोरीज बर्न करता है. हालांकि एक स्वस्थ व्यक्ति 1 दिन में लगभग तीन गिलास तक दूध पी सकता है. लेकिन इस बात का भी ध्यान रखें कि बैठकर काम करने वाले का पाचन शारीरिक श्रम जैसे खेती के काम या मजदूरी से जुड़े काम, खेल-कूद, जिमनास्ट इत्यादि करने वालों से काफी कमजोर होता है. यही कारण है की शारीरिक श्रम करने वाले लोग अधिक मात्रा में दूध को पचा लेते हैं.


Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों को केवल सुझाव के रूप में लें, www.british4u.com  इनकी पुष्टि नहीं करता है. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें. 

Reactions

Post a Comment

0 Comments