जीवन परिचय द्रौपदी मुर्मू [ Draupadi Murmu Biography ]

draupadi murmu | draupadi murmu is in race to be president of india | draupadi murmu president | draupadi murmu news | draupadi murmu biography |who is draupadi murmu |droupadi murmu,nda president candidate draupadi murmu | draupadi murmur |women president candidate draupadi murmu,india new president draupadi murmu| draupadi murmu to be the next president of india | droupadi murmu biography | jharkhand governor draupadi murmu | governor draupadi murmu [द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय,द्रौपदी मुर्मू,द्रौपदी मुर्मू जीवन परिचय,द्रौपदी मुर्मू की जीवनी,राष्ट्रपति प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय,जीवन परिचय द्रौपदी मुर्मू,द्रौपदी मुर्मू का जीवन,द्रौपदी मुर्मू कौन है,द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय || biography of dropati murmur,कौन हैं द्रौपदी मुर्मू,द्रौपदी मुर्मू जीवन,द्रौपदी मुर्मू पूरा जीवन,द्रौपदी मुर्मू जीवनी,द्रौपदी मुर्मू का भाषण,द्रौपदी मुर्मू का कार्यकाल,द्रौपदी मुर्मू की जीविनी ]


द्रोपति मुर्मू आदिवासी समुदाय से आने वाली उड़ीसा राज्य में पैदा हुई है. द्रौपदी मुरमू को अभी कुछ दिन पहले ही एनडीए के द्वारा भारत का  अगले राष्ट्रपति उम्मीदवार पद के लिए चुना गया है. इसी कारण से लोग द्रोपति मुर्मू के बारे में इंटरनेट से जानकारी खोजने में लगे हैं. आर्टिकल की मदद से आज हम  द्रौपदी मुर्मू के बारे में जानेंगे. इस आर्टिकल की मदद से हम द्रौपदी मुर्मू के जीवनी को आपसे शेयर करेंगे.

ये भी पढ़ें : जगदीप धनखड़ की जीवनी | Jagdeep Dhankhar Biography in Hindi | Vice President Jagdeep Dhankhar

द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय | Draupadi Murmu Biography in Hindi


  1. पूरा नाम: द्रौपदी मुर्मू
  2. पिताजी का नाम: बिरांची नारायण टुडू
  3. पेशा:    राजनीतिज्ञ
  4. पार्टी: भारतीय जनता पार्टी
  5. पति:    श्याम चरण मुर्मू
  6. जन्म तिथि:    20 जून 1958
  7. आयु: 64 वर्ष
  8. जन्म स्थान: मयूरभंज, उड़ीसा, भारत
  9. वजन: 74 किलो
  10. लंबाई: 5 फिट 4 इंच
  11. जाति: अनुसूचित जनजाति
  12. धर्म: हिंदू
  13. बेटी:    इतिश्री मुर्मू
  14. संपत्ति: 10 लाख
  15. भारतीय जनता पार्टी से जुड़ी:    1997

अगर हम द्रौपदी मुर्मू की प्रारंभिक जीवन की बात करें तो द्रौपदी मुर्मू  का जन्म वर्ष 1958, 20 जून को हुआ था. द्रौपदी मुरमू का जन्म एक आदिवासी परिवार में भारत देश के उड़ीसा राज्य के मयूरभंज इलाके में हुआ था.

इस प्रकार से द्रौपदी मुर्मू एक आदिवासी परिवार से ताल्लुक रखने वाली भारत की अगली राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार  चुनी गई है एनडीए के द्वारा.  इसी कारण से द्रौपदी मुर्मू का इंटरनेट पर काफी चर्चा हो रहा है.

शिक्षा

द्रौपदी मुरमू को विद्या अध्ययन के लिए उनके माता-पिता ने इलाके के एक स्कूल में उनका नामांकन करवा दिया. जहां से उनकी प्रारंभिक शिक्षा पूरी हुई. इसके बाद ग्रेजुएशन करने के लिए वह भुवनेश्वर पहुंच गई. भुवनेश्वर पहुंचने के बाद उन्होंने रामा देवी महिला कॉलेज से ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की.


ग्रेजुएशन करने के बाद उन्हें उड़ीसा में बिजली विभाग में जूनियर असिस्टेंट के पद पर नौकरी प्राप्त हुआ. उन्होंने या नौकरी वर्ष  1979 से लेकर के  वर्ष 1983 तक पूरी की. फिर उन्होंने 1994 में  रायरंगपुर में मौजूद अरबिंदो इंटीग्रल एजुकेशन सेंटर में टीचर के तौर पर काम करना चालू  कर दिया. और इसका उनको उन्होंने 1997 तक किया.

परिवार

द्रौपदी मुरमू की परिवार की बात करें तो उनके परिवार में उनके पिता बिरांची नारायण टुडू है और  माता द्रौपदी मुरमू संताल  है. और दोनों ही आदिवासी  परिवार से संबंध रखते हैं.  झारखंड राज्य बनने के बाद द्रौपदी मुरमू पहली महिला राज्यपाल रही जोगी अपना कार्यकाल 5 साल पूरा किया. द्रौपदी मुर्मू के पति  श्याम चरण मुर्मू है.


राजनीतिक जीवन

उड़ीसा सरकार में राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार के तौर पर द्रौपदी मुर्मू को वर्ष 2000 से लेकर के वर्ष 2004 तक ट्रांसपोर्ट और वाणिज्य डिपार्टमेंट संभालने का मौका प्राप्त हुआ ।

इन्होंने वर्ष  2002 से लेकर के वर्ष 2004 तक उड़ीसा गवर्नमेंट के राज्य मंत्री के तौर पर पशुपालन और मत्स्य पालन डिपार्टमेंट को भी संभाला।

वर्ष  2002 से लेकर के वर्ष 2009 तक यह भारतीय जनता पार्टी के अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी के मेंबर भी रह चुकी है ।

भारतीय जनता पार्टी के एसटी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष के पद को इन्होंने वर्ष  2006 से लेकर के वर्ष  2009 तक संभाल चुकी है ।

एसटी मोर्चा के साथ ही साथ भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के मेंबर के पद पर यह वर्ष  2013 से लेकर के वर्ष  2015 तक रही हैं .

झारखंड के राज्यपाल के पद को उन्होंने वर्ष  2015 में प्राप्त किया और यह इस पद पर वर्ष  2021 तक पदस्थापित रही।

जिला पार्षद

1997 में द्रौपदी मुर्मू उड़ीसा के रायरंगपुर जिला से पहली बार उन्हें जिला परिषद चुना गया. साथ ही यह रायरंगपुर की उपाध्यक्ष  भी बन गई. इन्हें साल 2002 से लेकर के साल 2009 तक मयूरभंज जिला भाजपा का अध्यक्ष बनने का मौका प्राप्त हुआ.  वर्ष 2004 में यह रायरंगपुर विधानसभा से विधायक बनने में भी सफलता हासिल की.और आगे बढ़ते बढ़ते साल 2015 में इन्हें झारखंड जैसे आदिवासी बहुल राज्य के राज्यपाल के पद को संभालने का भी  सौभाग्य प्राप्त हुआ.


पुरस्कार

पुरस्कार की बात करें दो नीलकंठ पुरस्कार सर्वश्रेष्ठ विधायक के लिए साल 2007 में  प्राप्त हुआ.

श्याम चरण मुर्मू के साथ द्रौपदी मुर्मू की शादी  हुई.  दोनों को कुल तीन संतान प्राप्त हुआ. दो बेटा और एक बेटी. हालांकि उनका व्यक्तिगत जीवन सुख में नहीं था. क्योंकि उनके पति और दो बेटे अब इस दुनिया में नहीं रहे. उनकी बेटी ही अब इस दुनिया में है जिनका नाम की  इतिश्री है. बेटी  इतिश्री की  शादी उन्होंने गणेश हेंब्रम के साथ करवाया है.

राष्ट्रपति उम्मीदवार घोषित

हालांकि द्रौपदी मुर्मू  को काफी लोग जानते थे. परंतु अभी हाल ही में  5 से 7 दिन पहले एनडीए के द्वारा अगली राष्ट्रपति उम्मीदवार के रूप में चुने जाने से तिरुपति प्रभु की चर्चा  जोरों पर है.

हालांकि अगर द्रौपदी मुर्मू राष्ट्रपति बनने में कामयाबी हासिल कर लेती हैं. तो वह भारत की पहली ऐसी आदिवासी महिला होंगी जो भारत का राष्ट्रपति बनेंगी. इससे पहले भारत देश में राष्ट्रपति के पद पर महिला के तौर पर प्रतिभा पाटिल अपना योगदान दे चुकी है.

FAQ:

Q: द्रौपदी मुर्मू कौन है?

Ans:एनडीए द्वारा घोषित भारत के अगले राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार।


Q: झारखंड की पहली महिला राज्यपाल कौन है?

Ans: द्रौपदी मुर्मू


Q: द्रौपदी मुर्मू के पति कौन है?

ANS: श्याम चरण मुर्मू


Q: द्रौपदी मुर्मू  किस समुदाय से आती  हैं?

ANS: आदिवासी समुदाय

Reactions

Post a Comment

0 Comments