Business Idea:सरकार दे रही है बंपर कमाई करने का मौका, जानिए कैसे उठाएं लाभ

PM Jan Aushadhi Kendras



Business Idea:   अगर आप भी अपना बिजनेस खोलना चाहते हैं. और सोच रहे हैं कि कौन सा बिजनेस खोलें. तो आज हम आपको बताएंगे एक बेहतर बिजनेस के बारे में. केंद्र सरकार के द्वारा आपको इस बिजनेस में मोटी कमाई करने का अवसर दिया जा रहा है. आप अपना भविष्य मेडिकल सेक्टर में सवार सकते हैं. कोरोना काल ने हम सब को यह एहसास दिला दिया की मेडिकल सेक्टर हमारे लिए कितना आवश्यक है. कोरोना काल से मेडिकल सेक्टर कि डिमांड में बहुत ज्यादा तेजी आई है.  केंद्र सरकार की तरफ से जेनेरिक दवाइयां मुहैया कराने के लिए  प्रधानमंत्री जन औषधि केद्र (PM Jan Aushadhi Kendras) खोलने का  अवसर दिया जा रहा है. और इसके लिए सरकार हर तरह से सहायता भी कर रही है.


केंद्र सरकार की तरफ से जन औषधि केंद्र की संख्या में बढ़ोतरी के लिए अथक प्रयास किया जा रहा है. सरकार ने देश में प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्रों (PM Jan Aushadhi Kendras) की संख्या मार्च 2024 तक बढाकर  10000 करने का लक्ष्य निर्धारित किया है. हमारे जैसे आम लोगों के दवाइयों का खर्च कम करने के लिए ही सरकार प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्रों (Pradhan Mantri Bhartiya Janaushadhi)  खोलने पर ध्यान दे रही है.

कौन खोल सकते हैं जन औषधि केंद्र

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्रों (Pradhan Mantri Aushadhi Kendras)   खोलने के लिए सरकार ने तीन  कैटेगरी बनाई है. प्रथम कैटेगरी में कोई भी व्यक्ति, बेरोजगार फार्मासिस्ट, कोई डॉक्टर या रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर जन औषधि केंद्र खोल सकता है. वहीं द्वितीय कैटेगरी की बात करें इसके अंतर्गत ट्रस्ट, NGO, प्राइवेट अस्पताल, आदि आते हैं. और तृतीय कैटेगरी में  राज्य सरकारों की तरफ से नॉमिनेट की गई एजेंसियों को मौका दिया  जाता है.

इसका मतलब है की अगर आप प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्रों (Pradhan Mantri Bhartiya Janaushadhi)   खोलना चाहते हैं तो  आपके पास डी फार्मा या बी फार्मा की डिग्री  होनी चाहिए. आवेदन करने के वक्त प्रूफ के तौर पर डिग्री को सबमिट करना  आवश्यक है.PMJAY के तहत SC, ST एवं दिव्यांग आवेदकों को औषधि केंद्र खोलने के लिए 50,000 रुपये तक की दवा एडवांस रकम  दिया जाता है. इस दवा दुकान को प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि केंद्र के नाम से खोला जाता है.

कैसे करें अप्लाई [How to apply ]

जन औषधि केंद्र खोलने के लिए सर्वप्रथम रिटेल ड्रग सेल्स' का लाइसेंस जनऔषधि केंद्र के नाम से लेना पड़ता है.इसके लिए आधिकारिक वेबसाइट https://janaushadhi.gov.in/ से फॉर्म मिल जायेगा उसको डाउनलोड कर सकते हैं. सॉन्ग डाउनलोड करने के बाद आवेदन आपको ब्यूरो ऑफ फॉर्मा पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग ऑफ इंडिया के जनरल मैनेजर (A&F) के नाम से भेजना पड़ेगा.

जानिए कितनी होगी कमाई

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र के द्वारा दवाओं की बिक्री पर 20 परसेंट तक का कमीशन प्राप्त हो जाता है. इतना ही नहीं इस बिक्री कमीशन के अलावा हर महीने होने वाले बिक्री पर 15% तक का कमीशन इंसेंटिव के रूप में दिया जाता है. जो आपकी कमाई हो जाएगी. इस योजना के तहत दुकान खोलने के लिए सरकार की ओर से फर्नीचर और दूसरे सामानों के लिए 1.5 लाख रुपये तक की मदद  दी जाती है. और दुकान में बिलिंग के लिए कंप्यूटर और प्रिंटर खरीदने में भी सरकार के द्वारा 50000  रुपए तक की मदद की जाती है.

Reactions

Post a Comment

0 Comments