मशरूम के फायदे (Mushroom ke fayda in hindi )

मशरूम के फायदे | Mushroom ke  fayda in hindi

मशरूम एक शाकाहारी सब्जी है जो सेहत और स्वाद से भरपूर होता है. मशरूम आपको 12 महीने बाजार में आसानी से मिल जाएगा. शरीर में जितने भी पोषक तत्व की जरूरत होती है इसमें मौजूद होते हैं. इसमें रोग प्रतिरोधक क्षमता भी होती है. और यह सब्जी खाने के बाद आसानी से पच जाता है. मशरूम ना केवल देश में बल्कि विदेशों में भी बहुत ज्यादा पसंद किया जाने वाला सब्जी है. मशरूम की कई तरह की प्रजाति पाई जाती है जो इस प्रकार है

मशरूम के फायदे (Mushroom ke  fayda in hindi )
mashroom
  • बटन मशरूम 
  • ओएस्टर मशरूम
  • इनोकी
  • शीताके
  • पोर्टाबेला
  • मोरेल


 मशरूम  के फायदे (Mashroom  fayda in hindi)

मशरूम भारत में मुख्यतः दो प्रकार की पाई जाती है. बटन एवं ओएस्टर मशरूम.  दोनों प्रकार के मशरूम भारत में हमेशा उपलब्ध मिल जाएंगे. चीन आदि देशों में इसको एक औषधि के रूप में देखा जाता है.वहां के लोग इसे बहुत ज्यादा पसंद करते हैं. मशरूम में पोषक तत्वों की भरमार होती है. इसमें पाए जाने वाले कुछ तत्व इस प्रकार हैं...

विटामिन बी - प्रोटीन
पोटेशियम- मिनरल
कॉपर- फाइबर
सेलेनियम- प्रोटीन
आयरन- एंटीऑक्सीडेंट
एमिनो एसिड- खनिज लवण

मशरूम ज्यादा महंगा नहीं होता है इसलिए हर आदमी आसानी से इसे खरीद कर खा सकता है. और इसमें मिलने वाले फायदों का भी लाभ ले सकता है.



मशरूम से होने वाले फायदे (Mashroom ke fayde )

कैंसर
कैंसर जैसी भयावह बीमारी से अगर बचाव चाहते हैं,तो मशरूम का सेवन अधिक से अधिक करें. यह आपके सेहत के लिए काफी लाभदायक होता है. कैंसर बीमारी से ग्रसित मरीज को डॉक्टर मशरूम खाने की सलाह देते हैं. मशरूम में मौजूद एसिड महिलाओं में होने वाले स्तन कैंसर से बचाता है. और साथ ही साथ पुरुष ग्रंथि में होने वाले कैंसर से भी हमारी रक्षा करता है.

कोलेस्ट्रॉल
आजकल के खान-पान के कारण हर कोई मोटापे और कोलेस्ट्रॉल से परेशान है. इस बीमारी से आज लाखों लोग ग्रसित हो चुके हैं. मोटापा बढ़ने और कोलेस्ट्रॉल की परेशानी के कारण हार्ड अटैक का रिस्क बढ़ जाता है और ब्लड प्रेशर की भी परेशानी हो सकती है. मशरूम के सेवन से कोलेस्ट्रॉल की परेशानी तो दूर होती हैं. साफ-साफ पेट से जुड़ी समस्याएं जैसे गैस कब्ज एसिडिटी आदि भी दूर हो जाता है.


कुपोषण
देश में बढ़ती गरीबी के चलते आज कुपोषण की समस्या विकराल रूप ले रही है. कुपोषण की समस्या गांव में अधिक देखने को मिलता है कुपोषण का मतलब होता है. शरीर में जरूरत के पोषक तत्व का नहीं होना. कुपोषण का समस्या का निदान यही है कि ज्यादा से ज्यादा पोषक तत्व युक्त भोजन का सेवन किया जाए .परंतु गरीबी के चलते लोग कई तरह की चीजें खरीद कर खाने में असमर्थ होते हैं. ऐसे में मशरूम कम कीमत में आसानी से बाजार में उपलब्ध हो जाता है,इसलिए इसे गर्भवती औरत और बच्चे बूढ़े जवान सभी लोग खा सकते हैं और उन्हें खाना भी चाहिए.

हिमोग्लोबिन बढ़ाता है
शाकाहारी लोगों में अक्सर खून की कमी हो जाती है.क्योंकि उन्हें भोजन में बहुत से पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं. मशरूम में बहुत से तरह के आयरन एवं एसिड होता है जिसके सेवन से शरीर में खून की कमी दूर होती है. खासकर शाकाहारी लोगों को इसका सेवन अवश्य करना चाहिए.

डायबिटीज दूर करता है
जी हां दोस्तों मशरूम में शर्करा,वसा,कार्बोहाइड्रेट,स्टार्च नहीं होता है. और यह सब डायबिटीज के मरीज को लेना नहीं चाहिए. मशरूम में फाइबर एवं मिनिरल्स अधिक मात्रा में पाई जाती है जो डायबिटीज के रोगी के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है.


रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है
मशरूम में मुक्ता विटामिन बी पाया जाता है.साथ ही इसमें दूसरे विटामिंस भी प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं.जो शरीर के अंदर रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है.

त्वचा को सुंदर बनाए रखने में मदद करता है
हर लड़की चाहती है,कि उसकी त्वचा बेदाग गोरी और चमचमाती दिखे. मशरूम के सेवन से हर लड़की के चेहरे में रंगत आ जाएगा. अगर आप मशरूम का सेवन करते हैं,तो आपको किसी बाहरी चीज की आवश्यकता नहीं पड़ेगी.साथ ही मशरूम में नेचुरल मॉइश्चर होता है. जो आपके चेहरे को हेल्दी और चमकता हुआ बनाएगा. मशरूम का सेवन करने से बढ़ती उम्र में होने वाली झुर्रियों से भी निजात पाई जा सकती है.


घने और लंबे बाल
बाल को स्वस्थ रखने के लिए अक्सर लड़कियां टीवी पर भ्रमित करने वाले विज्ञापनों के जाल में फंस जाती है. लेकिन आप लोग ऐसा ना करें क्योंकि इसका प्राकृतिक इलाज है. बालों का झड़ना कम करने के लिए लड़कियों को मशरूम को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए. मशरूम में आयरन उच्चतम मात्रा में पाई जाती है. जिससे शरीर में खून की कमी तो दूर होती ही है, साथ ही साथ बालों का झड़ना कम हो जाता है और काले घने लंबे बाल बनते हैं.
Reactions

Post a Comment

0 Comments