अग्निपथ योजना 2022 | Agneepath yojana 2022 in hindi | अग्नीपथ योजना चयन प्रक्रिया | ऑनलाइन आवेदन पात्रता,उम्र सीमा

अग्निपथ योजना 2022 | Agneepath yojana 2022 in hindi  | अग्नीपथ योजना चयन प्रक्रिया |  ऑनलाइन आवेदन पात्रता,उम्र सीमा.

हमारे भारत देश में बहुत से ऐसे नागरिक हैं जो सेना में भारतीय होना चाहते हैं. और इसी बात के मद्देनजर रखते हुए देश के तात्कालिक रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह जी के द्वारा अग्निपथ योजना शुरू की गई है. इस योजना के अंतर्गत देश के नागरिकों को 4 साल के लिए सेना में भर्ती किया जाएगा. इस आर्टिकल के माध्यम से आप अग्निपथ योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया जान पाएंगे. और साथ ही इस योजना की चयन प्रक्रिया संबंधी भी जानकारी मिलेगी. तो आइए हम जानते हैं कि अग्निपथ योजना क्या है और कैसे इस योजना का लाभ किस प्रकार लिया जा सकता है.

अग्निपथ योजना 2022 | Agneepath yojana 2022 in hindi | अग्नीपथ योजना चयन प्रक्रिया | ऑनलाइन आवेदन पात्रता,उम्र सीमा
british4u.com

अग्नीपथ योजना भारत सरकार के द्वारा शुरू की गई है. इस योजना के द्वारा वे सारे भारतीय युवा जो भारतीय सेना का हिस्सा बनना चाहता है वह अपना सपना पूरा कर सकते हैं. अग्नीपथ योजना 2022 (Agneepath yojana 2022) के माध्यम से भारत की सेना की तीनों शाखाएं जो कि थलसेना,नौसेना और वायुसेना है में बड़ी संख्या में भर्ती की जाने वाली है. यह भर्तियां अग्नीपथ योजना के अंतर्गत ही की जाएगी. इस योजना के अंतर्गत 4 साल के लिए सैनिकों को भर्ती किया जाएगा. इस योजना का आरंभ करने की घोषणा D
efense minister राजनाथ सिंह एवं सेना के तीनों प्रमुख द्वारा करी गई है. इस योजना के अंतर्गत भर्ती किए गए सारे जवानों को अग्निवीर का नाम दिया जाएगा.

अग्नीपथ योजना को मंजूरी सूक्ष्म मामलों की मंत्रिमंडल समिति की बैठक में प्रधान करी गई है. भारत सरकार द्वारा अग्निपथ योजना को लांच करने का निर्णय 14 जून 2022 को ली गई. यह  योजना रोजगार के अवसर को बढ़ाने में काफी कारगर साबित होने वाली है. इस योजना के संचालन से देश की सुरक्षा को भी मजबूती मिलेगी. देश के तीनों सेना के प्रमुख के द्वारा प्रधानमंत्री मोदी जी को इस योजना को आरंभ करने के लिए योजना का projrction भी प्रदान किया गया था.

Indian Army image: istock 

Agneepath Yojana का प्रमुख उद्देश्य

अग्नीपथ योजना के प्रमुख उद्देश्य देश के युवाओं को 4 वर्षों के लिए सेना में बहाल करना है. जिससे कि उन सभी भारतीय युवाओं का सपना पूरा हो सके जो कि भारतीय सेना में भाग लेना चाहते हैं. इसके अलावा इस योजना से देश की सुरक्षा में भी मजबूती मिलेगी. अग्निपथ योजना के अंतर्गत युवाओं को 4 वर्ष के लिए नियुक्त किया जाएगा और उसमें उनको सेना की हाई स्किल ट्रेनिंग प्रदान करी जाएगी. इस ट्रेनिंग को करने के बाद वह प्रशिक्षित एवं अनुशासित बन पाएंगे. इस योजना से देश में बेरोजगारी दर को घटाने में काफी मदद मिलेगी. और साथ ही साथ देश के नागरिक इस योजना के संचालन से सशक्त और आत्मनिर्भर भी बन पाएंगे. इस योजना के संचालन में जवानों की औसतन उम्र घटकर 26 साल हो जाएगी और इसके अलावा सभी बहाल युवाओं में से 25% नौजवानों को सेवा में रख भी लिया जाएगा.



अग्नीपथ योजना 2022

  1. योजना का नाम- अग्नीपथ योजना
  2. आरंभ किसने किया - भारत सरकार
  3. लाभार्थी - भारत के नागरिक
  4. उद्देश्य - युवाओं को सेना में भर्ती करवाना
  5. आधिकारिक वेबसाइट - जल्द ही लांच की जाएगी
  6. आवेदन के लिए न्यूनतम और अधिकतम उम्र - 17.5 से 21 वर्ष 
  7. वर्ष -  2022
  8. आवेदन का प्रकार- ऑनलाइन/ ऑफलाइन


अवधि पूरा होने पर 11 लाख से अधिक की राशि प्रदान की जाएगी

अग्नीपथ योजना के अंतर्गत जो भी नौजवान बहाल होंगे उनको उनके कार्यकाल की अवधि पूरी होने के पश्चात रक्षा बलों के द्वारा सैनिकों को आगे सेवा में भी रखा जा सकता है. अधिकांश सैनिकों को तीन-चार साल के अंत में ड्यूटी से मुक्त कर दिया जाएगा एवं उनको आगे रोजगार के लिए सशक्त  बलों के द्वारा सहायता प्रदान करी जाएगी.

और इसके अलावा कॉरपोरेट कंपनी भी ऐसे प्रशिक्षित और अनुशासित जवानों को नौकरी प्रदान करने में दिलचस्पी दिखाएगी. सभी बहाल अग्नि वीरों में से लगभग 25% अग्निवीरों को सेवा में रख लिया जाएगा. इस योजना के अंतर्गत 17.5 वर्ष से 21 वर्ष
 तक के नौजवानों को सेना में बहाल किया जाएगा.

सर्विस की अवधि पूरी हो जाने के बाद नौजवानों को 11.71 लाख का राशि (टैक्स फ्री) प्रदान  करी जाएगी. तकरीबन 46000 नौजवानों की अग्निपथ योजना के अंतर्गत बहाली होगी. इस योजना मैं लड़कियों का भी चयन किया जाएगा. भारत सरकार के द्वारा अगले 90 दिनों में इस योजना के अंतर्गत भर्ती कर दी जाएगी. जितने भी अग्निवीर होंगे उनके प्रशिक्षण की अवधि 10 हफ्ते से लेकर 6 महीने तक निर्धारित की गई है. इस योजना के माध्यम से किसी विशेष रेजिमेंट की जगह राष्ट्रीय स्तर पर अग्नि वीरों को बहाल किया जाएगा.


अग्नीपथ योजना के अंतर्गत वेतनमान

अग्नीपथ योजना के अंतर्गत अग्निवीरों को प्रथम वर्ष 4.76 लाख का सालाना पैकेज दिया जाएगा. यह सालाना पैकेज 4 वर्षों में बढ़कर 6.92 लाख रुपए तक हो जाएगा. इसके अलावा 4 साल के सर्विस करने के पश्चात सर्विस से मुक्त होने पर 11.71 लाख रुपए सेवा निधि के रूप में अग्निवीरों को दी जाएगी. यह राशि बिल्कुल टैक्स फ्री होगा. इन सबके अलावा अग्निवीरों का अगर किसी मुश्किल जगह पर पोस्टिंग हो जाता है तो इस स्थिति में अग्निवीरों के जवानों को Highship भत्ता भी प्रदान किया जाएगा. इतना ही नहीं अग्निवीरों को 4800000 रुपए का बीमा cover भी दिया जाएगा. और अगर अग्नि वीरों का 4 साल के दौरान मृत्यु हो जाता है तो अग्निवीर के परिवार को ₹1000000 का मुआवजा भी दिया जाएगा. अग्निवीरों को बैंक लोन की सुविधा दी जाएगी.


अग्निवीरों का चयन प्रक्रिया

अब बात करते हैं अग्निवीरों की चयन प्रक्रिया की वायु सेना में शामिल होने वाले अग्निवीरों को हाय स्किल ट्रेनिंग देकर सेवा का मौका प्रदान की जाएगी. अग्निवीरों को नौसेना में पनडुब्बियों पर एयरक्राफ्ट पर और नौसेना के जहाजों आदि पर तैनात की जाएगी. और महिलाओं को सेलर के तौर पर भर्ती करी जाएगी. सेना प्रमुख ने यह बिल्कुल स्पष्ट कर दिया है कि इस योजना के अंतर्गत भर्ती के मापदंडों में किसी भी प्रकार का कोई समझौता नहीं किया जाएगा.

और अग्नि वीरों का कलेक्शन एक पारदर्शी नियुक्ति प्रक्रिया के अंतर्गत होगा. अग्निवीरों को नियुक्त होने के लिए सभी चिकित्सा पात्रता शर्तों को पूरा करना पड़ेगा.  25% अग्निवीरों को सशस्त्र बल में नामांकित कर लिया जाएगा. इन सबके अलावा मौजूदा दिशा निर्देश के अनुसार अग्निवीरों को सम्मान और पुरस्कार भी प्रदान किया जाएगा.

अग्नीपथ योजना का कुछ विशेष लाभ

इस योजना के माध्यम से देश के सभी नागरिक को 
 equal opportunity प्रदान करी जाएगी.

सभी अग्निवीरों का एक पारदर्शी तरीके से चयन होगा.

Tech institute के माध्यम से भी अग्नि वीरों का चयन होगा.

संपूर्ण देश के नागरिकों का आर्म्ड फोर्स जॉइन करने का सपना इस योजना के माध्यम से पूरा हो पाएगा.

जो अग्निवीर 4 साल का कार्यकाल पूरा कर लेंगे उनको सर्टिफिकेट भी प्रदान करी जाएगी.

अग्निवीर को एक अच्छा वित्तीय पैकेज भी दिया जाएगा.

अग्निवीरों का चयन प्रक्रिया

अब बात करते हैं अग्निवीरों की चयन प्रक्रिया की वायु सेना में शामिल होने वाले अग्निवीरों को हाय स्किल ट्रेनिंग देकर सेवा का मौका प्रदान की जाएगी. अग्निवीरों को नौसेना में पनडुब्बियों पर एयरक्राफ्ट पर और नौसेना के जहाजों आदि पर तैनात की जाएगी. और महिलाओं को सेलर के तौर पर भर्ती करी जाएगी. सेना प्रमुख ने यह बिल्कुल स्पष्ट कर दिया है कि इस योजना के अंतर्गत भर्ती के मापदंडों में किसी भी प्रकार का कोई समझौता नहीं किया जाएगा.

और अग्नि वीरों का कलेक्शन एक पारदर्शी नियुक्ति प्रक्रिया के अंतर्गत होगा. अग्निवीरों को नियुक्त होने के लिए सभी चिकित्सा पात्रता शर्तों को पूरा करना पड़ेगा.  25% अग्निवीरों को सशस्त्र बल में नामांकित कर लिया जाएगा. इन सबके अलावा मौजूदा दिशा निर्देश के अनुसार अग्निवीरों को सम्मान और पुरस्कार भी प्रदान किया जाएगा.

अग्नीपथ योजना का कुछ विशेष लाभ

इस योजना के माध्यम से देश के सभी नागरिक को  equal opportunity प्रदान करी जाएगी.

सभी अग्निवीरों का एक पारदर्शी तरीके से चयन होगा.

Tech institute के माध्यम से भी अग्नि वीरों का चयन होगा.

संपूर्ण देश के नागरिकों का आर्म्ड फोर्स जॉइन करने का सपना इस योजना के माध्यम से पूरा हो पाएगा.

जो अग्निवीर 4 साल का कार्यकाल पूरा कर लेंगे उनको सर्टिफिकेट भी प्रदान करी जाएगी.

अग्निवीर को एक अच्छा वित्तीय पैकेज भी दिया जाएगा.


अग्निपथ योजना के अंतर्गत चयन प्रक्रिया

  • अग्नीपथ योजना के अंतर्गत सेना के द्वारा जारी की गई मेरिट लिस्ट के आधार पर उम्मीदवारों का चयन किया जाएगा.
  • लिखित परीक्षा फिजिकल टेस्ट साक्षात्कार आदि के आधार पर मेरिट लिस्ट को बनाया जाएगा.


अग्नीपथ योजना की पात्रता
  • आवेदक को भारत का स्थाई निवासी होना चाहिए
  • आवेदक की आयु 17.5 से 21 वर्ष (21 से बढ़ाकर 23 वर्ष किया गया है. यह one time relaxation दिया गया है) होनी चाहिए
  • अग्निवीर को दसवीं और बारहवीं कक्षा उत्तीर्ण  होनी चाहिए.
  • अग्निवीर को सभी चिकित्सा मापदंडों को पूरा करना होगा.

महत्वपूर्ण दस्तावेज
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण
  • 10वीं या 12वीं कक्षा की मार्कशीट
  • मेडिकल सर्टिफिकेट
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी आदि


अग्नि वीरों का रिक्रूटमेंट

इस योजना के अंतर्गत चयन में कोई भी अलग से मॉडल फॉलो  नहीं करी जाएगी.

अब तक सेना में जिस तरह से चयन होता है वैसे ही अग्नि वीरों का भी चयन करी जाएगी.

भारतीय सेना का सिलेक्शन सेंटर संपूर्ण देश में स्थित है.

इन्हीं सेंटरों के माध्यम से अग्नि वीरों का चयन किया जाएगा.


अग्नीपथ योजना का टर्म एंड कंडीशन (term and condition)

इस योजना के अंतर्गत आवेदकों को 4 वर्ष के लिए नियुक्त किया जाएगा.

नियुक्त किए गए जवानों को एक अलग रैंक प्रदान करी जाएगी.

4 वर्ष की अवधि पूर्ण होने के बाद अग्निवीर परमानेंट इनरोलमेंट करवा पाएंगे.

लगभग 25% अग्नि वीरों को नियुक्त कर ली जाएगी.

परमानेंट इनरोलमेंट की स्थिति में अग्नि वीरों को पात्रता सेना के मौजूदा रूल के अनुसार जांच किया जाएगा.

इस साल 46000 अग्निवीरों की नियुक्ति करी जाएगी.

इस योजना के अंतर्गत इनरोलमेंट online centralised system, rally एवं Campus interview के माध्यम से करी जाएगी.

Enrollment all India all classes के बेस पर किया जाएगा.

अग्नीपथ योजना के अंतर्गत आवेदन करने की न्यूनतम आयु 17.5 वर्ष एवं अधिकतम आयु 21 वर्ष (अधिकतम आयु को बढ़ाकर अब 23 वर्ष कर दिया गया है. यह one time relaxation दिया गया है  ) रखा गया है.

इस योजना के अंतर्गत न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता दसवीं कक्षा रखी गई है.







Disclaimer:  इस आर्टिकल के माध्यम से दी जाने वाली सारी जानकारियां इंटरनेट की माध्यम से ली गई है. British4u.com  इस आर्टिकल में दी गई जानकारियों के लिए जिम्मेदार नहीं है और जो British4u.com किसी भी प्रकार का आर्टिकल में दी गई जानकारी  का दावा नहीं करता है.
Reactions

Post a Comment

0 Comments